2019 – Crystal-Gazing: Opinion of the Electorate – भविष्य की झांकी: मतदाताओं की राय

CRYSTAL-GAZING:   Opinion of the Electorate just before the 2019 General Elections

[Because I don’t want to choose between the ‘devil’ and the ‘deep-sea’ and I quiver being left with NO CHOICES for the next government]

  • Were there any real differences between the UPA and the NDA governments?
  • One governed through mean self interest; the other governed by reckless adventurism
  • One was oblivious to the future and destroyed the present; the other was correcting the present but destroyed the future
  • One lived off the charisma of a dynasty; the other thrived on charisma of one man
  • One rewarded loyalty to the dynasty; the other rewarded loyalty to the man
  • One had muted its Prime Minister; the other had muted most of its Ministers
  • One had smart ministers of corrupt intents; the other had stupid ministers of confused intents
  • One had divided the country on religion and tried to appease the minority; the other further divided the religious majority on caste and tried to appease the so called lower castes
  • … … … … … … … … …

 

CRYSTAL-GAZING:   Opinion of the Electorate just after the 2019 General Elections

  • One was done in by its allies; the other was done in by its ‘Bhasmasurs’ and ‘Shakunis’
  • End of the Story
  • ॐ शान्ति: शान्ति: शान्ति:॥

______________________________

Hindi version follows:

हिन्दी संस्करण आगे है:

_______________________________________________

Share the post with your friends and networks!!

You can follow the author on other sites –

_______________________________________________

भविष्य की झांकी: मतदाताओं की राय – 2019 के आम चुनावों से तुरंत पहले

[क्योंकि मैं अंधे-गहरे ‘खाई’ और ‘कुएं’ के बीच चयन नहीं करना चाहता हूं और मुझे लगता है कि अगली सरकार चुनने में मेरे पास और कोई विकल्प नहीं होगा]

क्या यूपीए और एनडीए सरकारों के बीच कोई वास्तविक अंतर था?

  • पहले ने नीच स्वहित के माध्यम से शासन किया; दूसरे ने उतावले दुस्साहस के माध्यम से
  • पहले ने भविष्य की परवाह नही की और वर्तमान को नष्ट कर दिया; दूसरे ने वर्तमान को सही करने के फेर में भविष्य को ही नष्ट कर दिया
  • पहला वंशवाद के करिश्मे से चला; दूसरा सिर्फ एक आदमी के करिश्मे से
  • पहले ने वंश के लिए वफादारी को पुरस्कृत किया; दूसरे ने सिर्फ एक आदमी के लिए वफादारी को पुरस्कृत किया
  • पहले ने अपने प्रधान मंत्री को मूक कर रखा था; दूसरे ने अपने अधिकांश मंत्रियों को मूक कर रखा था
  • पहले के पास भ्रष्ट लक्ष्यों से लैस चतुर मंत्री थे; दूसरे के पास व्याकुल इरादों के जाहिल मंत्री थे
  • पहले ने देश को धर्म पर विभाजित कर धार्मिक अल्पसंख्यक को प्रसन्न करने की कोशिश की थी; दूसरे ने धार्मिक बहुसंख्यक को जाति पर विभाजित कर पिछड़ी जाति को खुश करने की कोशिश की थी
  • … … … … … … … …

 

भविष्य की झांकी: मतदाताओं की राय – 2019 के आम चुनावों के तुरंत बाद

  • पहले को उसके अपने अवसरवादी सहयोगी ले डूबे थे, दूसरा स्वयं के वरदान प्राप्तिकर्ता “भस्मासुरो” द्वारा खाक कर दिया गया था।
  • इति।

ॐ शान्ति: शान्ति: शान्ति:॥

_______________________________________________

अगर आपको पोस्टिंग पसंद है, तो पसंद (Like) करें!

कृपया पोस्ट को अपने दोस्तों और नेटवर्क के साथ साझा करें !!

आप लेखक का अंग्रजी ब्लॉग पर अनुसरण कर सकते हैं –

https://www.facebook.com/intheworldofideas/

_______________________________________________

Published by

Mukul Gupta

*Educator, researcher, author and a friendly contrarian* Professor@MDIGurgaon

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s